हारमोनियम बजाना कैसे सीखें – Learn Harmonium in Hindi

How to play Harmonium – in Hindi

Harmonium-sikhe

हारमोनियम बजाना कैसे सीखें (Harmonium bajana kaise seekhe)
भारतीय शास्त्रीय संगीत में हारमोनियम ने एक अलग ही पहचान बनाई हैं। हालांकि हारमोनियम का आविष्कार यूरोप में हुआ था किन्तु भारतीय शास्त्रीय संगीत के अनुकूल होने के कारण यह जल्दी ही अपना लिया गया। हारमोनियम में हवा के प्रवाह से कंपन उत्पन्न होता है जिससे स्वर की उत्पत्ति होती हैं। हारमोनियम में हवा का प्रवाह(Air Pumping) कराने के लिये पैर तथा हाथ का उपयोग किया जाता हैं। अपने देश के ज्यादातर हारमोनियम में हाथ के द्वारा धौंकनी(Bellows) को निरंतर आगे-पीछे करते रहने से हवा का प्रवाह होता हैं। यूरोप से 19वीं सदी में दोनों तरह के हारमोनियम का भारत में आगमन हुआ लेकिन पैर से हवा देने वाले हारमोनियम के पैडल को चलाने के लिये एक कुर्सी या किसी अन्य फर्निचर(Furniture) की आवश्यकता होती थी जो भारतीय शास्त्रीय संगीत के अनुरूप नहीं था फलस्वरूप हस्त-चालित हारमोनियम का चलन बढ़ गया जो आज तक बना हुआ हैं।

हारमोनियम में धौंकनी(Bellows) क्या हैं?

Bellows-Harmonium

धौंकनी हारमोनियम का सबसे महत्वपूर्ण वाद्य-यंत्र है यह गत्ते(Cardboard) तथा चमड़े(Leather) से मिलकर बना होता हैं।

    प्रत्येक हारमोनियम में दो Bellows होते है –

  • 1. बाहरी धौंकनी(External Bellows) – इसे हाथ से निरंतर चलाने(Pumping) के दौरान यह हवा को Valve से प्रवेश करा कर Internal Bellows में भेज देता हैं। इसमें पीछे के तरफ पाँच या उससे अधिक वॅाल्व(Valve) लगे होते हैं।
  • 2. आंतरिक धौंकनी(Internal Bellows) – Internal Bellows हवा को संग्रहीत(Reserved) कर लेती है तथा यह हवा को कंपन पट्टी(Reeds Board) की तरफ छोड़ती है जहां Stops से होते हुए यह Keys के पास पहुँचती है और Keys को दबाने के फलस्वरूप आवाज उत्पन्न होती हैं। आंतरिक धौंकनी हारमोनियम के भीतरी हिस्से में होती है ये बाहर से दिखायी नहीं देती।

हारमोनियम Notes(Keys) अथवा स्वर क्या हैं?

Harmonium Keys

Keys को हिन्दी में “चाबी अथवा कुंजी” कहा जाता हैं। हारमोनियम पर इसे दबाने से स्वर की उत्पत्ति होती हैं। ये सफेद तथा काले रंग के होते हैं। जिन्हें हमलोग संगीत के सातों स्वर –
सा(षडज), रे(ऋषभ), ग(गंधार), म(मध्यम), प(पंचम), ध(धैवत), नि(निषाद) अर्थात “सा, रे, ग, म, प, ध, नी” के नाम से जानते हैं।

इन सातों स्वरों के समूह को सप्तक कहा जाता हैं। हारमोनियम में तीन सप्तक होते हैं – “मंद्र, मध्य तथा तार सप्तक” तथा इन तीनों सप्तकों से मिलकर हारमोनियम का एक Keyboard होता हैं। गायक अथवा वादक हारमोनियम बजाते समय ज्यादातर ‘मध्य सप्तक’ का उपयोग करते हैं।
हारमोनियम के एक सप्तक में सात सफेद तथा पाँच काले Keys होते हैं। उपर के चित्र को बड़ा करके ध्यान से देखें।

शुद्ध, कोमल तथा तीव्र स्वर

  • शुद्ध स्वर – साधारणतः संगीत के सातों स्वर – “सा, रे, ग, म, प, ध, नी” को ही शुद्ध स्वर कहा जाता हैं।
  • कोमल स्वर – सरल भाषा में हारमोनियम के काले Keys को कोमल स्वर कहा जाता है। कोमल स्वर की फिक्वेंसी शुद्ध स्वरों की तुलना में थोड़ा कम होती हैं।
  • तीव्र स्वर – सातों सुरों या स्वरों में केवल “म” स्वर तीव्र होता है. तीव्र स्वर शुद्ध स्वरों की तुलना में थोड़ा ज्यादा तेज आवाज उत्पन्न करती हैं।

हारमोनियम के भाग(Parts)

Harmonium-Kaise-bajaye

हारमोनियम बजाने के लिए क्या जरूरी हैं।

संगीत को ईश्वर की देन माना जाता हैं। यदि आप मेहनत करें तो कोई भी कार्य सफल हो जाता हैं।
ठीक यही बात यहां भी लागू होती है क्योंकि आप एक घंटे में, एक दिन में या एक महीने में और मान लीजिए तो पूरे एक साल में भी हारमोनियम बजाना नहीं सीख सकते जब तक आप यह न साबित कर दे की आपको हारमोनियम बजाना सीखना ही हैं। इसके लिए आपको थोड़ी मेहनत करनी होगी। हारमोनियम सीखना तो बड़ा आसान हैं किन्तु बजाना मुश्किल। अनपढ़ तथा वृद्ध व्यक्ति भी जब हारमोनियम बजा सकते है तो आप सोचिए आप तो पढ़े-लिखें हैं, आप क्यों नही बजा सकते ?

जहां तक मुझे ज्ञात हैं, हारमोनियम सीखने के दो मुख्य तरीके हैं।
दोनों में वैसा ही अंतर है जैसे दो भाइयों में से एक भाई बड़े मेहनत से पढ़-लिखकर डॅाक्टर बना और दूसरा चालाकी से ही डॅाक्टर बन गया। अब सोचिए किसके अस्पताल में ज्यादा मरीज़ होंगे।
कहने का तात्पर्य है की यदि आप अभ्यास करके आवाज और लय को साध कर हारमोनियम बजाना सीखेंगे तो आप किसी भी गाने को बजा सकते हैं जबकि आप मेहनत नहीं करेंगे तो आप किसी भी गाने को हारमोनियम पर नही बजा पायेंगे। आप उसी गाने को बजा पायेंगे जिसका नोटेशन आपको याद होगा।
हारमोनियम का अभ्यास करने में राग तथा स्वर-अलंकार के साथ नोट्स का भी बहुत महत्त्वपूर्ण योगदान होता हैं।
आइये इन दोनों तरीकों को विस्तार से जाने।

1. अभ्यास तथा सुरों को साध कर हारमोनियम बजाना सीखना।

नये हारमोनियम सीखने के इच्छुक लोगों के लिए जरूरी है कि वो निरंतर ओंकार(ऊँ) के जाप की तरह अपने आवाज को हारमोनियम पर साधें। आप कई हारमोनियम बजाने वालो को ऐसा करते देखे होंगे। जैसे घटते-बढ़ते(आरोह-अवरोह) क्रम में “अ…अ…अअअअ…अ……अ…” का अभ्यास करना।
जब आपके आवाज तथा हारमोनियम के आवाज में कोई अंतर नही रह जाता तब अभ्यास सफल हो जाता हैं।

अभ्यास के लिए आपको आरोह तथा अवरोह के क्रम में स्वर अलंकारों का अभ्यास हारमोनियम के शुद्ध स्वर सप्तक के सातों स्वरों पर करना चाहिए। और साथ ही साथ कुछ गानों अथवा भजनों के नोट्स(सरगम) लेकर उसे बजाने की कोशिश करनी चाहिए।
धीरे-धीरे जब आप स्वरों को साध लेंगे अर्थात जब आपका हाथ हारमोनियम पर बैठ(Set) जाएगा तब आप आँखें मूँदकर किसी भी गाने को बजा पायेंगे।

नोट :- मन्द्र स्वरों के नीचे एक बिन्दी लगा कर उन्हें मन्द्र बताया जाता है तथा तार सप्तक के स्वरों के ऊपर एक बिंदी लगा कर उन्हें तार सप्तक के रूप में दिखाया जाता है।

आरोह-अवरोह तथा अलंकार

सा रे ग म प ध नि सां (आरोह)
तथा
सां नि ध प म ग रे सा (अवरोह)

कुछ अलंकारों के उदाहरण देखिए –
  • 1. सासा रेरे गग मम पप धध निनि सांसां।
    सांसां निनि धध पप मम गग रेरे सासा।
  • 2. सारेग, रेगम, गमप, मपध, पधनि, धनिसां।
    सांनिध, निधप, धपम, पमग, मगरे, गरेसा।
  • 3. सारेसारेग, रेगरेगम, गमगमप, मपमपध, पधपधनि, धनिधनिसां।
    सांनिसांनिध, निधनिधप, धपधपम, पमपमग, मगमगरे, गरेगरेसा।
  • 4. सारेगसारेगसारेसागरेसा, रेगमरेगमरेगरेमगरे, गमपगमपगमगपमग, मपधमपधमपमधपम, पधनिपधनिपधपनिधप, धनिसांधनिसांधनिधसांनिध, निसांरेनिसांरेनिसांनिरेंसांनि, सांरेंगंसांरेंगंसांरेंसांगंरेंसां।

2. सरगम(Notation) के द्वारा हारमोनियम सीखना

हारमोनियम पर किसी गाने को बजाने का एक सरल तरीका है उस गाने का सरगम कंठस्थ करके बजाना। इंटरनेट पर अधिकतर गानों का सरगम उपलब्ध है आप सर्च करके मनपसंद गाने का Harmonium Notes प्राप्त कर सकते हैं।

नीचे राष्ट्रगान के उदाहरण से सरगम को समझे –

राष्ट्रगान- “जन-गण-मन” का हारमोनियम नोट्स इस प्रकार हैं –

जन गण मन अधिनायक जय हे
सारे गग गग गगग गग रेग म
भारत-भाग्य-विधाता
ग गग रे रेरे .नी रेसा

आपको हारमोनियम पर बारी बारी से “सारे गग गग गगग गग रेग म” सफेद कुंजी(Keys) को दबाना होगा फिर “ग गग रे रेरे .नी रेसा” को।

आप इस नोट्स को हारमोनियम पर बजाने का कोशिश करें और देखिए कैसे राष्ट्रगान के प्रथम दो पंक्तियों का धुन निकलता हैं।
यदि आपके पास हारमोनियम नहीं है तो आप अपने स्मार्टफोन में ऐप स्टोर से पियानो या हारमोनियम डाउनलोड कर बजा सकते हैं।

Indian National Anthem का Full Harmonium Notation देखने के लिए नीचे क्लिक करें-


हारमोनियम बजाना कैसे सीखें(Harmonium bajana kaise seekhe)

ये पोस्ट आपके लिए बड़ी मेहनत से लिखी गयी है। हम आपसे अपेक्षा करते हैं कि इस पोस्ट को अपने दोस्तों अथवा शुभेच्छुओं के साथ शेयर करें। साथ ही आपको ये जानकारी कैसी लगी हमें अपनी प्रतिक्रिया के माध्यम से बतायें। कोई त्रुटि नजर आये या कोई सुझाव हो तो हमें जरूर बतायें।

You may also like...

22 Responses

  1. Unknown says:

    I want this song Notes "tune o rangile kaisa jadukiya piyapiya " so Pless give me Thish Notes

  2. Excellent information and motivation

  3. Excellent guidelines given by you, I heartily congratulate to you for this how to play Harmonium in a easy way. Thanks. Suresh Kumar, Delhi

  4. Pratik Yadav says:

    Please search on google….

  5. Pratik Yadav says:

    आपका आभार

  6. Aman Yadav says:

    Really fantastic information about harmonium. I want to buy a foot pedal harmonium for self use. Can you please suggest me any brand or manufacturer. If possible, also please give me your valuable guidelines in details to buy a good quality harmonium. My email id is [email protected] AMAN YADAV-DELHI

  7. Pratik Yadav says:

    अमन जी foot pedal हारमोनियम अपने देश में ज्यादा प्रसिद्धि हासिल नही कर पायी हैं। क्योंकि bellows हारमोनियम के मुकाबले इसका रखरखाव आसान नही होता। यदि आपको bellows पसंद नहीं है तो आप electronic piano ले सकते हैं। बाकी आपकी इच्छा। जहां तक हारमोनियम खरीदने की बात है, शास्त्रीय संगीत में शामिल कोई भी वाद्य यंत्र काफी अच्छे तथा टिकाऊ होते है। इन वाद्य यंत्रों को खरीदने में आपको कोई ठग नहीं सकता। double or triple reeds तथा scale changer वाले हारमोनियम काफी अच्छे होते हैं।
    धन्यवाद,

  8. sachin tawar says:

    Rama raghunandana Marathi song me notes bhejiye….sir………….

  9. SIR HUMKO DRUM PAD SEEKHNA HAI PLESE HAMARI HELP KAREY

  10. MS Manjit says:

    बहुत बहुत धन्यावाद सर.. आपने काफी आसान लगने लगा दिया.. मैने अभी अभी हारमोनियम सीखना प्रारंभ किया है.. आपके द्वारा दिए गए दिशा-निर्देश और प्रेरणा से बहुत आत्मविश्वास बढ़ा है ????

  11. SIR HUMKO organ harmuniyam SEEKHNA HAI ap hame isake key ke bare me bataiye PLESE HAMARI HELP KAREY

  12. Chandan soni says:

    mujhe badshao movie k mere rashqe kamar gane ka notes chahiye or vo mujhe google pr bhi nhi mila

  13. Great. I will follow all coming classes. I am in some problems and don't have muh money to spare sart from trying to get my children educated. Therefore all the mor valuable for me. How to get into the site ?

  14. KL SWAMI says:

    बहुत शानदार शिक्षण के लिए धन्यवाद !

  15. Pratik Kumar says:

    आप सभी का आभार

  16. बहुत बढिया सर,गुरू बिन संगीत की समझ कठिन है अागे भी गुरू की तरह संगीत की बारिकीयों पर लिखते रहें….धन्यवाद,

  17. Sir kya aap apna mobile number De skte h.

  18. सन्‍तोष घाटिया says:

    पुरे अलंकार मील सकते है किसी के पास हो जरूर दे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *